भोपाल से भी 5 फरवरी को 1584 श्रद्धालुओं के साथ विशेष ट्रेन चलाई जा रही है। 22 कोच की इस ट्रेन में सभी कोच स्लीपर होंगे। हर एक कोच में 72 बर्थ होंगी।

भोपाल। सदियों के इंतजार के बाद अगले वर्ष 2024 में अयोध्या में बनकर तैयार हो रहे भव्य श्रीराम मंदिर भगवान रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी। ऐसे में श्रद्धालुओं को भगवार श्रीराम के दर्शन करवाने के लिए देशभर से अयोध्या के लिए 40 विशेष ट्रेनें चलाए जाने की योजना है। यह सभी ट्रेनें 26 जनवरी 2024 से 21 फरवरी 2024 के बीच विभिन्न शहरों से अयोध्या पहुंचेंगी। भोपाल से भी 5 फरवरी को 1584 श्रद्धालुओं के साथ विशेष ट्रेन चलाई जा रही है। 22 कोच की इस ट्रेन में सभी कोच स्लीपर होंगे। हर एक कोच में 72 बर्थ होंगी।

जोनल कार्यालय से मिली अनुमति :
प्रधानमंत्री कार्यालय से जारी दिशा निर्देश के अनुसार भोपाल रेल मंडल ने जबलपुर स्थित पश्चिम- मध्य रेल के जोनल मुख्यालय से विशेष गाड़ी चलाने की अनुमति मांगी थी। जोनल कार्यालय से मिली अनुमति के अनुसार विशेष गाड़ी 5 फरवरी को भोपाल से प्रस्थान करेगी और 7 फरवरी को अयोध्या से वापस भोपाल के लिए चलेगी। भोपाल रेल मंडल के सीनियर डीसीएम सौरभ कटारिया ने बताया कि मंजूरी मिल गई है।

यह रहेगी समय सारिणी :
भोपाल रेल मंडल से मिली जानकारी के अनुसार यह विशेष गाड़ी 5 फरवरी को रात 10.25 पर भोपाल से रवाना होगी और अगले दिन 6 फरवरी को शाम 5.10 पर अयोध्या पहुंचेगी। वहीं अयोध्या से वापसी गाड़ी 8 फरवरी रात 10.35 पर चलेगी और यह ट्रेन अगले दिन 9 फरवरी को दोपहर 3.20 पर भोपाल पहुंचेगी। रास्ते में यह गाड़ी दोनों ओर से बीना, झांसी, ग्वालियर, भिंड इटावा, कानपुर सेंट्रल और लखनऊ हाेते हुए अयोध्या पहुंचेगी।

आईआरसीटीसी को मिल सकती है जिम्मेदारी :
अब तक विभिन्न धार्मिक स्थलों तक चलाई जाने वाली विशेष ट्रेनों का संचालन आईआरसीटीसी करता रहा है। माना जा रहा है कि अब जोनल कार्यालय द्वारा इस विशेष ट्रेन को चलाने की जिम्मेदारी आईआरसीटीसी को सौंपी जा सकती है।

Harabhara Vatan

Harabhara Vatan

Next Story