भोपाल मेमोरियल हॉस्पिटल (BMHRC) में जल्द ही कैंसर सर्जरी शुरू होने वाली है। सर्जिकल आन्कॉलोजी में परमानेंट डॉक्टर की नियुक्ति के लिए आईसीएमआर ने भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी है।

भोपाल। भोपाल मेमोरियल हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर (BMHRC) में जल्द ही कैंसर सर्जरी शुरू होने वाली है। बीते कई साल से बंद सर्जिकल आन्कॉलोजी में परमानेंट डॉक्टर की नियुक्ति के लिए आईसीएमआर ने भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी है। इसके अलावा और भी कई ऐसे विभाग हैं, जहां डॉक्टर नहीं थे। बीएमएचआरसी से मिली जानकारी अनुसार आईसीएमआर द्वारा कुल 12 विभागों में 22 चिकित्सकों के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू की गई है। इनमें 3 प्रोफेसर और 19 सहायक प्रोफेसर के पद शामिल हैं। आवेदन के लिए 16 फरवरी अंतिम दिन है, इसके बाद साक्षात्कार होंगे। मार्च के पहले या दूसरे सप्ताह में नए चिकित्सक आमद दे देंगे।

कैंसर सर्जरी विभाग होगा शुरू :
बीएमएचआरसी का कैंसर या आन्कोलॉजी विभाग लंबे समय से बंद है। यहां एक भी चिकित्सक न होने के कारण मरीजों को इलाज के लिए परेशान होना पड़ता है। गैस पीड़ितों में ऐसे सैंकड़ों मरीज हैं, जो विभिन्न प्रकार के कैंसर से जूझ रहे हैं। यही कारण राज्य सरकार ने कुछ निजी अस्पतालों से भी अनुबंध किया हुआ है, लेकिन अब बीएमएचआरसी में कैंसर सर्जरी विभाग के शुरू होने से यहां मरीजों को इलाज मिल सकेगा।

नेफ्रो-गेस्ट्रो मेडिसिन विभाग आएगा पटरी पर :
नए चिकित्सकों की भर्ती प्रक्रिया में बीएमएचआरसी के नेफ्रोलॉजी और गेस्ट्रो मेडिसिन विभाग में भी भर्ती होना है। फिलहाल इन दोनों विभागों में विजिटिंग डॉक्टर्स आते हैं, जो कि सिर्फ ओपीडी सेवाएं देते हैं। परमानेंट डॉक्टर आ जाने से यहां मरीजों को इलाज की सुविधा ओपीडी और आईपीडी दोनों में मिल सकेगी।

बीएमएचआरसी में जुलाई-अगस्त से एमबीबीएस कोर्स की शुरूआत हो सकती है। यहां एमबीबीएस की 100 सीटों के साथ कोर्स शुरू होने की उम्मीद है। इसी के साथ यहां जनरल मेडिसिन विभाग भी शुरू हो जाएगा। केंद्र ने बीएमएचआरसी को पीजी इंस्टीट्यूट का दर्जा दिया हुआ है और यहां कई विभागों में पीजी की पढ़ाई भी हो रही है। बीएमएचआरसी की निदेशक डॉ. मनीषा श्रीवास्तव ने बताया कि बीएमएचआरसी मध्य भारत के एक प्रमुख पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टिट्यूट के तौर पर विकसित हो रहा है। एनेस्थीशियोलॉजी, ऑप्थेलमोलॉजी, माइक्रोबायोलॉजी समेत कुछ विभागों में पीजी कोर्स संचालित हो रहे हैं।

Harabhara Vatan

Harabhara Vatan

Next Story