जंगली करेला, मीठा करेला या ककोड़ा की। वैसे तो इसे ककोड़ा के नाम से ही जाना जाता है, लेकिन कई जगहों पर इसके अलग अलग नाम भी सुनने में आते हैं। तो आइए जानते हैं इस खास सब्जी के जबरदस्त फायदों के बारे में

हराभरा वतन। आज हम आपको एक ऐसी सब्जी के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आम तौर पर ठेले और सब्जी की दुकान पर दिखाई नहीं देती और यह हर मौसम में उपलब्ध भी नहीं रहती, लेकिन अगर आप इसका नियमित सेवन करते हैं, तो यह धीरे धीरे कई बीमारियों को ठीक करना शुरू कर देती है। हम बात कर रहे हैं। जंगली करेला, मीठा करेला या ककोड़ा की। वैसे तो इसे ककोड़ा के नाम से ही जाना जाता है, लेकिन कई जगहों पर इसके अलग अलग नाम भी सुनने में आते हैं। तो आइए जानते हैं इस खास सब्जी के जबरदस्त फायदों के बारे में...

ककोड़ा में मुख्य रूप से करेले की ही तरह सभी पोषक तत्व पाए जाते हैं। माना जाता है कि इसका लगातार सेवन करने से कई असाध्य रोग भी ठीक हो जाते हैं। दरअसल ककोड़ा में विटामिन सी, ग्लाइकोसाइड, अमीनो एसिड, जिंक, पोटेशियम, फॉस्फोरस व सोडियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है। वहीं यह फाइबर का भी एक अच्छा स्रोत है।

बनी रहती है चुस्ती फुर्ती, बढ़ते वजन को करता है कंट्रोल :
ककोड़ा में फाइबर भरपूर मात्रा में होता है। इसके अलावा कैलोरी की मात्रा न्यून होती है। इस कारण इसके सेवन से बढ़ते वजन पर नियंत्रण होने लगता है। इसके अलावा फाइबर भरपूर होने के कारण यह पेट को पूरी तरह से साफ करता है, जिससे बॉडी डिटॉक्स होती है और सेहत में सुधार होता है। चुस्ती फुर्ती भी बनी रहती है।

डायबिटीज व बीपी को करता है कंट्रोल :
ककोड़ा शुगर और बीपी के मरीजों के लिए भी वरदान है। ककोड़ाका ग्लाइसेमिक इंडेक्स बहुत कम होता है, रक्त में शर्करा की मात्रा को नियंत्रित करता है। इसके अलावा इसमें पाया जाने वाला पोटेशियम ब्लड प्रेशर के मरीजों को स्वस्थ रखता है। पेटेशियम ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है। ऐसे में इसका सेवन बहुत ही लाभदायक होता है। इतना ही नहीं इसमें पाया जाने वाला बीटा कैरोटीन ल्युटीन जैसे फ्लेबोनायड आपकी त्वचा को स्वस्थ रखने क लिए जरूरी हैं।

Harabhara Vatan

Harabhara Vatan

Next Story