मेडिटेशन से अच्छे हॉरमोन पैदा होते हैं, जो मानसिक एवं शारीरिक बीमारियों से मुक्त करने में मददगार बनते हैं | आज के समय में स्वस्थ शरीर के लिए मेडिटेशन बहुत आवश्यक है |

भोपाल। बीमारियों के मुख्य कारण हमारा भोजन, एक्सरसाइज का अभाव, हमारी लाइफ स्टाइल, तनाव , हमारी पर्सनालिटी, हमारे संबंध हैं जो कि बीमारी को लाते हैं । यह बात ब्लेसिंग हाउस भोपाल द्वारा आयोजित 'आपका स्वास्थ्य आपकी मुट्ठी में' विषय पर आयोजित राजयोग शिविर में माउंट आबू से आए बीके डॉ प्रेम मसंद ने कही। उन्होंने बताया कि समय के साथ समाज मे जो बदलाव आता है, उसे हमे समझना पड़ता है और अपने आप को ठीक करना पड़ता है। कब्जी बने रहना, एसिडिक बने रहना, नींद ठीक से न होना ये सब बीमारियों के अलग-अलग कारण हैं। उसमें से इमोशनल स्ट्रेस (भावनात्मक तनाव) आज के समय में बीमारियों का बहुत बड़ा कारण है | लोग कसरत कर रहे हैं, डाइट पर लोगों का ध्यान है, वजन मे भी ध्यान है। ये कारण तो ठीक कर लिए हमने पर जो इमोशनल स्ट्रेस है, उसको कम करना भूल गए। जिसके कारण अचानक हार्ट अटैक हो रहे हैं । यही कारण है कि युवाओं को भी हार्ट अटैक आ रहे हैं।

जैसे बैक्टीरिया और वायरस एक सिस्टम को प्रभावित करते हैं, वैसे ही हमारे इमोशन (भावनाएं) भी एक सिस्टम को प्रभावित करती हैं | हर एक का अपना-अपना स्ट्रक्चर है कि कौन सा इमोशन (भावनाएं) कौन सी जगह पर असर कर रहा है ? अगर मैं गुस्सा ज्यादा करता हूं तो लीवर के ऊपर असर आता है, एसिडिटी होगी | इरिटेट (चिड़चिड़ा) ज्यादा होता हूं अपसेट होता हूँ तो पेट पर असर होता है | चीजों को पकड़ता बहुत हूँ छोटी-छोटी चीजों को पकड़ता बहुत हूं, तो हार्ट के ऊपर असर होगा । ये अलग-अलग इमोशन (भावनाएं) अलग-अलग अंगों पर असर करते हैं । जो मेरे ब्रेन में हो रहा है उसका असर मेरी आंतों में भी होता है इसलिए आंतों का प्रॉब्लम ज्यादा हो रहा है । जो हम सोच रहे हैं उसका असर आंतों पर आता है । इरिटेट होता हूं तो उसका असर आंतों पर आता है। उसका सीधा कारण तनाव है । एक्सरसाइज, मेडिटेशन के द्वारा स्ट्रेस कम कर सकते हैं । डर का असर भी आंतों पर पड़ता है । आत्मविश्वास से हैप्पी हार्मोन पैदा होते हैं | मेडिटेशन से अच्छे हॉरमोन पैदा होते हैं, जो मानसिक एवं शारीरिक बीमारियों से मुक्त करने में मददगार बनते हैं | आज के समय में स्वस्थ शरीर के लिए मेडिटेशन बहुत आवश्यक है | मेडिटेशन से हार्मोन नियंत्रित रहते है जिसका अनुकूल प्रभाव आंतों एवं शरीर के अन्य अंगों पर पड़ता है जो स्वस्थ रहने मे मददगार होते हैं |

Harabhara Vatan

Harabhara Vatan

Next Story