आधुनिक युग ऐसा युग है, जिसमें हर व्यक्ति पर काम का अत्यधिक दबाव है। ऐसे में व्यक्ति कई बार काम के भारी दबाव के कारण स्वयं को स्वस्थ रखने, व्यायाम के लिए समय नहीं निकाल पाता है और कई बीमारियों से ग्रसित हो जाता है।

भोपाल। आधुनिक युग ऐसा युग है, जिसमें हर व्यक्ति पर काम का अत्यधिक दबाव है। ऐसे में व्यक्ति कई बार काम के भारी दबाव के कारण स्वयं को स्वस्थ रखने, व्यायाम के लिए समय नहीं निकाल पाता है और कई बीमारियों से ग्रसित हो जाता है। ऐसे में साइकिलिंग स्वयं को स्वस्थ रखने का एक अच्छा साधन साबित हो सकती है। शोध बताते हैं कि जो व्यक्ति नियमित रूप से साइकिल चलाते हैं। वे कई तरह की गंभीर बीमारियों से बचे रहते हैं। नियमित रूप से साइकिल चलाने वाले लोगों में हृदयाघात और डायबिटीज का खतरा कम रहता है। साथ ही साइकिल मांसपेशियों को भी मजबूत करती है और गठिया की समस्या को खत्म करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है तो आइए जानते हैं साइकिल चलाने के कुछ अनूठे फायदे…

1. हृदय की बीमारियों का जोखिम करती है कम :
साइकिल हृदय की बीमारियों का जोखिम कम करती है। एक अध्ययन बताता है कि जो लोग नियमित रूप से साइकिल चलाते हैं। उनमें हार्ट और कार्डियोवैस्कुलर परेशानियों का जाेखिम कम होता है। इस शोध में 30 साल से ज्यादा आयुवर्ग के पुरुषों को शामिल किया गया और शोध में पाया गया कि जो पुरुष नियमित रूप से साइकिल चलाते हैं। उनका हृदय बेहतर तरीके से काम करता है। साइकिल चलाने के दौरान पूरे शरीर के साथ-साथ हमारे हृदय की भी अच्छी खासी कसरत हो जाती है।

2. बिना दवाओं ठीक करती है टाइप-2 डायबिटीज :
नियमित रूप से साइकिल चलाने वाले लोगों में टाइप-2 डायबिटीज का खतरा कम होता है। एनसीबीआई की साइट पर प्रकाशित एक शोध के अनुसार जो लोग नियमित रूप से साइकिल चलाते हैं। उनमें आम लोगों की तुलना में टाइप-2 डायबिटीज का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है। मोटी महिलाओं पर किए गए एक अन्य शोध में इन महिलाओं को 6 सप्ताह तक नियमित 45 मिनट तक साइकिलिंग करने को कहा गया। 6 सप्ताह बाद इन महिलाओं में इन्सुलिन का स्तर सामान्य होने लगा। वहीं जो लोग नियमित साइकिल चलाते हैं, उनका वजन नियंत्रित रहता है, जिसके कारण डायबिटीज का खतरा कम हो जाता है।

3. कैंसर का खतरा करती है कम :
चीन में हुए एक शोध में एक हैरान करने वाली जानकारी सामने आई है। महिलाओं और पुरुषाें संयुक्त रूप से किए गए इस शोध के अनुसार जो लोग प्रतिदिन 2 घंटे साइकिल चलाते हैं, उनमें रोजाना 30 मिनिट साइकिल चलाने वालों की तुलना में पेट के कैंसर का खतरा 50 फीसदी तक कम हो जाता है। वहीं जो महिलाएं नियमित रूप से साइकिल चलाती हैं, उनमें स्तन कैंसर का खतरा 10 फीसदी कम हो जाता है। इस तरह से साइकिल चलाने से कैंसर का खतरा भी कम हो जाता है।

4. वजन कम करने में सहायक :
वहीं जो लोग अपना वजन कम करना चाहते हैं। साइकिलिंग उनके लिए फायदे का सौदा साबित हो सकती है। 6 माह तक यदि नियमित साइकिल चलाई जाए तो 12 फीसदी तक वजन कम किया जा सकता है। इस तरह से साइकिल कैलोरी बर्न करने में बहुत सहायक होती है।

5. मांसपेशियां हाेती हैं मजबूत :
साइकिल चलाने के दौरान पैर ऊपर से नीचे की ओर एक सर्कल में गतिविधि करते हैं। इस दौरान शरीर के निचले हिस्से से लेकर ऊपर के हिस्से की भी कसरत होती है। इसी कारण साइकिलिंग से पैरों से लेकर शरीर के ऊपर के हिस्से की भी मांसपेशियां मजबूत होती हैं। साइकिलिंग से शरीर में ऑक्सीजन का स्तर भी बढ़ता है। साथ ही साइकिलिंग गठिया या आर्थराइटिस की समस्या को भी कम करती है। एक शोध के अनुसार 8 सप्ताह तक नियमित 25 मिनट साइकिल चलाने वाले लोगों में आर्थराइटिस के लक्षणों में कमी देखी गई। साइकिल चलाने से मांशपेशियों के संकुचन, शक्ति और कार्य करने की क्षमता में सुधार देखा गया।

Harabhara Vatan

Harabhara Vatan

Next Story