प्रत्याशी चुनाव में प्रचार प्रसार पर 40 लाख तक ही खर्च कर सकेंगे। इसके अलावा चुनाव में पारदर्शिता रखने के लिए केवल 10 हजार रुपए नगद खर्च करने की अनुमति दी गई है।

भोपाल। विधानसभा चुनाव के लिए प्रत्याशियों के खर्च की सीमा तय कर दी गई है। प्रत्याशी चुनाव में प्रचार प्रसार पर 40 लाख तक ही खर्च कर सकेंगे। इसके अलावा चुनाव में पारदर्शिता रखने के लिए केवल 10 हजार रुपए नगद खर्च करने की अनुमति दी गई है। यह जानकारी जिला निर्वाचन अधिकारी और कलेक्टर आशीष सिंह ने गुरुवार को कलेक्ट्रेट में निर्वाचन व्यय एवं व्यय लेखा से संबंधित विधिक प्रावधानों और आयोग के संबंध में जारी अनुदेशों की जानकारी देते हुए सभी राजनीतिक दलों को दी। इस दौरान दलों के प्रतिनिधियों को अन्य नियमों से भी अवगत कराया गया और निष्पक्ष निर्वाचन के लिए जागरूक किया गया।

खुलवाना होगा एक अलग बैंक खाता :
जिला निर्वाचन अधिकारी ने जानकारी दी कि सभी प्रत्याशी चुनावी खर्च के लिए अपना एक अलग बैंक खाता अपने या अपने एजेंट के नाम पर खुलवाएंगे। चुनाव में होने वाले सारे व्यय इसी खाते से किए जाएंगे। तय की गई सीमा से अधिक खर्च नहीं किया जा सकेगा। नगद भुगतान न करने की सलाह देते हुए ज्यादा से ज्यादा डिजीटल पैमेंट या चेक से पैमेंट करने की जानकारी दी। इसके अलावा प्रत्याशी को नामांकन के दौरान दिए जाने वाले व्यय रजिस्टर में पूरा हिसाब-किताब दर्ज करना होगा।

बैठक में कलेक्टर सिंह ने सभी दलों के प्रतिनिधियों को स्पष्ट कर दिया कि निर्वाचन के दौरान सभी दलों को सभा रैली एवं अन्य कार्यक्रमों की अनुमति सुविधा एप के माध्यम से नियत समय में दी जाएगी, जिससे किसी प्रकार की असुविधा न हो। इसके साथ ही सभी नागरिकों राजनीतिक दलों को यह सुनिश्नित करना है कि आदर्श आचरण संहिता का ईमानदारी और सही ढंग से पालन सुनिश्चित हो और शांति पूर्वक तरीके से निर्वाचन संपन्न हो।

Updated On 13 Oct 2023 9:10 AM GMT
Harabhara Vatan

Harabhara Vatan

Next Story