गरबा पांडालों और झांकियों पर भी आदर्श आचरण संहिता के प्रतिबंध लागू होंगे। इसके कारण आयोजन समितियां शहर में तेज आवाज में डीजे नहीं बजा सकेंगी।

भोपाल। गरबा पांडालों और झांकियों पर भी आदर्श आचरण संहिता के प्रतिबंध लागू होंगे। इसके कारण आयोजन समितियां शहर में तेज आवाज में डीजे नहीं बजा सकेंगी। रात 10 बजे के बाद तेज आवाज में लाउडस्पीकर और डीजे पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिया गया है। झांकियों के आसपास बड़ी सं या मेंं लोग भी इकट्ठा भी नहीं हो सकेंगे। कलेक्टर और जिला निर्वाचन अधिकारी आशीष सिंह ने आदेश जारी करते हुए स्पष्ट कर दिया है कि सभी जगहों पर धारा-१४४ के आदेशों का हर स्थिति में पालन करना होगा। इसके अलावा जुलूस जलसे और गरबा स्थल पर तलवार सहित अन्य धारदार हथियारों का प्रदर्शन भी नहीं हो सकेगा।

इन नियमों का करना होगा पालन :
गरबा, डांडिया और अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित कराने वाली आयोजन समितियों को इस बात का विशेष ध्यान रखना होगा कि आयोजन स्थल पर कोई भी व्यक्ति बगैर पहचान पत्र के प्रवेश न कर पाए। फोटो आईडी देखने के बाद ही लोगों को गरबा स्थल पर प्रवेश दिया जाए। सुरक्षा के लिहाज से कार्यक्रम स्थल पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाना अनिवार्य होगा। ताकि किसी भी अप्रिय स्थिति के दौरान घटना की पूरी जानकारी पता लग सके।

सुरक्षा के भी करने होंगे पूरे इंतजाम :
आयोजन समितियों को पंडालों में आग से बचाने के लिए सुरक्षा के पूरे इंतजाम करने होंगे। इसके लिए अग्रिशमन फायर ब्रिगेड सहित अन्य व्यवस्थाएं करनी होंगी। इसके अलावा फायर से टी नॉ र्स का पूरी तरह से पालन करना जरूरी होगा। आयोजन स्थल पर फस्र्ट एड बॉक्स सहित अन्य जरूरी मेडिकल उपकरण रखना जरूरी है। इस बात का भी विशेष ध्यान रखना होगा कि आयोजन स्थल पर कोई धारदार हथियार या अन्य वस्तु नहीं पहुंच सके। आयोजन के दौरान किसी भी संदिग्ध, आपत्तिजनक वस्तु, धारदार हथियार को कार्यक्रम स्थल पर नहीं ले जाया जा सकेगा और न ही उसका प्रयोग व प्रदर्शन हो सकेगा। पांडालों द्वारा आयोजन के पहले बिजली कंपनी से अस्थाई बिजली कनेक्शन लेना अनिवार्य होगा। आयोजकों के पास बिजली कंपनी की एनओसी होना चाहिए।

दुर्गा उत्सव के दौरान पूरे शहर में आयोजित होने वाले गरबा, डांडिया एवं अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों को आयोजित कराने वाली समितियों को आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के लिए आदेश जारी किए गए है।

- हरेन्द्र नारायण, एडीएम भोपाल

Updated On 20 Oct 2023 8:40 AM GMT
Harabhara Vatan

Harabhara Vatan

Next Story