एक बार राम नाम लेने से कई जन्मों के कट जाते हैं पाप, अंत समय स्मरण करने से मिलती है पापों से मुक्ति : भाजपा प्रवक्ता

भोपाल। श्रीराम मंदिर निर्माण को लेकर कांग्रेस और वामपंथियों ने हमेशा ही सवाल खड़े किए हैं। ऐसे में अब श्रीराम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा होने वाली है, तो कांग्रेस के सभी वयोवृद्ध नेताओं को पुरानी गलतियों को छोड़ भगवान श्रीराम की शरण में जाना चाहिए। ये बात मंगलवार को भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता व जागृत हिंदू मंच के संयोजक डॉ. दुर्गेश केसवानी ने न्यू मार्केट डाक घर में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कही। इस अवसर पर उन्होंने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल, पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बैनर्जी, तमिलनाडु के सीएम एमके स्टालिन, बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, कमलनाथ और दिग्विजय सिंह सहित अन्य नेताओं को मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में शामिल होने का निमंत्रण पत्र और घर में लगाने के लिए दीपक भेजे। उन्होंने सभी दलों के नेताओं से प्रार्थना की। अब भगवान श्रीराम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा होने जा रही है। ऐसे में पूर्व की सभी गलतियों को भूल भगवान श्री राम की शरण में आ जाएं। भगवान राम का एक बार नाम लेने से सात जन्मों के पाप नष्ट हो जाते हैं। ऐसे में अंत समय भगवान का स्मरण करने से वे अपने और अपने पूरे कुल का उद्धार कर लेंगे। कार्यक्रम में जागृत हिंदू मंच के संयोजक एडवोकेट सुनील जैन, अनिल मोटवानी, बसंत गनोते, योगेश मालानी, योगेंद्र सिंह, पंकज कुमार, धीरज कुमार, यश कुमार सहित अनेक कार्यकर्ता मौजूद थे।

भाजपा प्रवक्ता ने बताया कि 5 शताब्दी के बाद भारत के लिए इतना बड़ा अवसर है। ऐसे में हर भारतीय को पूरे हर्ष उल्लास के साथ त्योहार के रूप में इसे मानना चाहिए। दीपावली से ज्यादा इस दिन रोशनी होनी चाहिए। ऐसे में कांग्रेसी साथियों के घर भी रोशनी हो इसलिए उन तक सभी श्रीराम विरोधियों तक दीपक पहुंचाए जा रहे हैं। इसके अलावा शहर का कोना कोना रोशन किया जाएगा। इसकी व्यवस्था की जा रही है। उन सभी लोगों को निमंत्रण पत्र भेजे जा रहे हैं, जिन्होंने श्री राम मंदिर निर्माण में अड़चनें पैदा की और भगवान राम के अस्तित्व पर सवाल उठाए।

छपवाए गए हैं विशेष आमंत्रण पत्र :
डॉ. केसवानी ने बताया कि विशेष आमंत्रण पत्र छपवाए गए हैं। इनमें पीले चावल के साथ कांग्रेसी नेताओं को अयोध्या राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम का निमंत्रण भेजा जा रहा है। केसवानी ने कहा कि वे ईश्वर से प्रार्थना करेंगे कि श्रीराम और राम सेतु के अस्तित्व पर प्रश्न उठाने वाले कांग्रेसी अब ईश्वर की शरण में पहुंचे और अपने लोक परलोक को सुधारें। इस दौरान संयोजक एडवोकेट जैन ने कहा कि ये अभियान लगातार जारी रहेगा। राम विरोधियों को राम भक्त बनाकर उन्हें पापों से मुक्ति दिलाई जाएगी। ताकि पूरा विश्व राममय हो और राम राज्य की स्थापना हो सके।

Harabhara Vatan

Harabhara Vatan

Next Story