मप्र में आदर्श आचरण संहिता के लागने के बाद अब तक लगभग 2.38 लाख लायसेंसी शस्त्र थानों या डीलरों के पास जमा कराए गए हैं। इसमें बंदूक, पिस्टल के अलावा अन्य 12 बोर और राइफल भी शामिल है।

भोपाल। मप्र में आदर्श आचरण संहिता के लागने के बाद अब तक लगभग 2.38 लाख लायसेंसी शस्त्र थानों या डीलरों के पास जमा कराए गए हैं। इसमें बंदूक, पिस्टल के अलावा अन्य 12 बोर और राइफल भी शामिल है। यह जानकारी मप्र के मुख्य निर्वाचन आयुक्त अनुपम राजन ने मीडिया के साथ शनिवार को साझा की। बता दें कि अभी भी कई जिलों में लाइसेंसी हथियार पूरी तरह से जमा नहीं हुए हैं। चुनाव आयोग ने इस मामले पर संबंधित जिलों के कलेक्टरों से रिपोर्ट मांग ली है। बता दें कि दशहरे के चलते कई लोगों ने अब तक अपने लाइसेंसी हथियार जमा नहीं किए हैं। इसके अलावा सड़कों पर चल रही जांच के दौरान अब तक 81 करोड़ रुपए से अधिक की नकदी और अन्य सामग्री केवल 11 दिन में जब्त की गई है। बता दें कि मप्र निर्वाचन आयोग द्वारा सभी जिलों के कलेक्टर को निर्देश दिए गए थे कि वे 20 अक्टूबर तक शस्त्र जमा कराकर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को इसकी जानकारी दें।

जब्त की गई हैं विभिन्न प्रकार की सामग्रियां :
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अनुपम राजन ने बताया कि मध्यप्रदेश विधानसभा निर्वाचन के कारण 9 अक्टूबर से प्रदेश में आदर्श आचरण संहिता लागू कर दी गई है। इसके बाद गठित एफएसटी व पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा 391 इंटर स्टेट बॉर्डर एवं जिलों के अंदर 9 से 19 अक्टूबर के बीच 81 करोड़ 98 लाख 5 हजार 826 रुपए से अधिक की नकद और अन्य संपत्ति को जब्जत किया गया है। टीम ने 19 अक्टूबर तक 8 करोड़ 65 लाख 64 हजार 290 रुपए नगद, 17 करोड़ 29 लाख 90 हजार 980 रुपये की अवैध मदिरा जब्त की है। 20 करोड़ 77 लाख की सोना और चांदी की ज्वेलरी सहित 4 करोड़ 36 लाख रुपए के मादक पदार्थ एवं 30 करोड़ 87 लाख रुपए की अन्य सामग्रियां जब्त की हैं।

Updated On 22 Oct 2023 11:40 AM GMT
Harabhara Vatan

Harabhara Vatan

Next Story