पदवृद्धि की मांग को लेकर लोक शिक्षण संचालनालय (डीपीआई) के सामने पांच जून से प्रदर्शन कर रहे चयनित शिक्षक आठ अगस्त से 15 अगस्त के बीच आठ दिवसीय प्रदर्शन करेंगे।

भोपाल। पदवृद्धि की मांग को लेकर लोक शिक्षण संचालनालय (डीपीआई) के सामने पांच जून से प्रदर्शन कर रहे चयनित शिक्षक आठ अगस्त से 15 अगस्त के बीच आठ दिवसीय प्रदर्शन करेंगे। इस दौरान सामूहिक रूप से सिर मुंडवाकर भीख मांगकर प्रदर्शन किया जाएगा। अगले दिन अपनी मांगों को लेकर अद्र्ध नग्न हो नारेबाजी करेंगे। बता दें कि चयनित शिक्षक लगातार धरना प्रदर्शन और भूख हड़ताल कर अपनी मांगों को पूरा करने की बात कह रहे हैं। इस दौरान प्राथमिक शिक्षक बारी बारी से आमरण अनशन कर अपनी मांगों को पूरा करने का दबाव भी बना रहे हैं।
बता दें कि 2020 में चयनित शिक्षक पूर्व में दिए गए पदों के अतिरिक्त शेष पदों पर रोस्टर जारी करके पदवृद्धि की मांग कर रहे हैं। इसके अलावा प्रमोशन और रिटायरमेंट से खाली हुए पदों को भी प्राथमिक शिक्षक पात्रता 2020 के उत्तीर्ण अभ्यर्थियों से भरने की मांग कर रहे हैं।

यह रहेगी प्रदर्शन की रूप रेखा :
चयनित शिक्षक 8 अगस्त को सामूहिक मुंडन कर विरोध प्रदर्शन करेंगे। अगले दिन 9 अगस्त को भीख मांगकर विरोध करेंगे। 10 अगस्त को बूट पॉलिश और 11 अगस्त को चाय-पकौड़े बेचकर विरोध करेंगे। इसके बाद भी यदि मांगों को नहीं माना गया तो 12 अगस्त को अद्र्ध नग्न हो नारेबाजी करेंगे। 13 अगस्त को कैंडल मार्च और 14 अगस्त को अर्थी यात्रा निकालकर प्रदर्शन किया जाएगा। 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर झंडा वंदन कर तिरंगे को सलामी दी जाएगी।

Harabhara Vatan

Harabhara Vatan

Next Story