कांग्रेस की दूसरी सूची जारी होते ही पार्टी की अंदरूनी खींचतान सडक़ पर आ गई है। जो कपड़ा फाड़ राजनीति बंद कमरों के अंदर चल रही थी, वो अब सार्वजनिक हो गई है।

भोपाल। कांग्रेस की दूसरी सूची जारी होते ही पार्टी की अंदरूनी खींचतान सडक़ पर आ गई है। जो कपड़ा फाड़ राजनीति बंद कमरों के अंदर चल रही थी, वो अब सार्वजनिक हो गई है। यह बात शुक्रवार को मंत्री विश्वास सारंग ने प्रदेश मीडिया सेंटर में पत्रकार-वार्ता को संबोधित करते हुए कही। सारंग ने कहा कि कुछ समय तक प्रदेश कांग्रेस के जो दो नेता गलबहियां डाले घूम रहे थे। उनका असली मकसद दोनों सूचियों के सार्वजनिक होने के बाद सामने आ गया है। पहली सूची आने के बाद कमलनाथ ने कपड़े फाडऩे की बात की थी, तो दिग्विजय सिंह ने मीडिया के सामने उनकी गलतियों को उजागर किया। लेकिन दूसरी सूची आने के बाद तो पार्टी में विरोध इतना बढ़ गया है कि अब इस्तीफा देने वालों की सूची तैयार हो गई है। कांग्रेस में टिकट के लिए बोलियां तो पहले भी लगती थीं, लेकिन इस बार तो सारे रिकॉर्ड टूट गए।

अब प्रदेश में भी हावी हो रहा परिवारवाद :
सारंग ने कहा कि कांग्रेस में परिवारवाद की संस्कृति रही है। आज जहां केंद्र में गांधी व नेहरू परिवार अपने बेटे बेटियों को स्थापित करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। वहीं मध्य प्रदेश में दिग्विजय सिंह और कमलनाथ भी अपने बेटों को स्थापित करने में लगे हैं। दोनों बड़े नेताओं के बीच इसको लेकर ाींचतान चल रही है। देखा जाए तो शुरूआत में दिग्विजय व कमलनाथ यह घोषणा करते रहे कि टिकट उसे दिया जाएगा, जिसकी सर्वे रिपोर्ट पॉजिटिव होगी। लेकिन जब सूचियां जारी हुईं तो सर्वे पीछे छूट गया।

कांग्रेस का व्यवहार मीडिया से अच्छा नहीं : वीडी
जबलपुर। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने शुक्रवार को जबलपुर में संभागीय मीडिया कार्यालय के उद्घाटन के दौरान कहा कि मीडिया सेंटर में पत्रकारों को हर जानकारी मिलेगी। यह मीडिया नहीं, बल्कि फ्रेंडली सेंटर होगा। उन्होंने कहा कि दिग्विजय सिंह और कमलनाथ का पत्रकारों से कैसा व्यवहार रहता है? यह सबको पता है। कांग्रेस का व्यवहार मीडिया से अच्छा नहीं रहा है।

तीन सभाओं में कांग्रेस पर बरसे नरोत्तम, बोले इनका काम देश को ताेड़ना :

अशोकनगर। गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने शुक्रवार को पिछोर, अशोकनगर और चंदेरी में आयोजित सभाओं में कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। मिश्रा ने कहा कि राहुल गांधी ने राजस्थान में हिंदू व हिंदुत्व पर सवाल उठाया। वे जातिगत जनगणना की बात करते हैं। भगवा को आतंकवाद बताया और सनातन को डेंगू और मच्छर बताया। एक ही धर्म पर सारे प्रहार क्यों? पिछली बार सरकार बनने से पहले कहा कि 10 दिनों में 2 लाख का कर्जा माफ होगा। नौजवानों को बेरोजगाकर बत्ता देंगे। 15 महीने की सरकार में 60 पैसे भी नौजवानों के खाते में नहीं गए। इस बार भी कांग्रेस ने घोषणा पत्र जारी किया है। ऐसे में अब कांग्रेस जनता को दोबारा से भ्रमित करने आ गई है।

Updated On 22 Oct 2023 10:53 AM GMT
Harabhara Vatan

Harabhara Vatan

Next Story