सुरजेवाला ने कहा कि आने वाले समय में हम दस्तावेजी प्रमाण के साथ एक बड़ा खुलासा करेंगे कि ऐसी ही लगभग 150 से अधिक विभिन्न विभागों की कल्याणकारी योजनाओं को शिवराज सरकार ने ताला लगा दिया है।

भोपाल। वृद्ध और नि:शक्तजनों का हक छीन ले, ऐसी पापी सरकार तीनों लोकों में यदि कहीं है, तो वह केंद्र और मध्य प्रदेश की भाजपा सरकारें है। केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकार ने चौपन लाख से अधिक परिवारों के साथ इतना घृणित पाप किया है, कि इसे सुनकर आपके पैरों तले जमीन खिसक जाएगी। यह बात बुधवार को मप्र कांग्रेस कमेटी कार्यालय में सांसद और मप्र कांग्रेस कमेटी के महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने पत्रकार वार्ता के दौरान कही।

सात केंद्रीय प्रायोजित परियोजनाओं को ताला लगाने का आरोप :
सुरजेवाला ने इस अवसर पर कहा कि केंद्र में जब कांग्रेस की सरकार थी, तो सामाजिक न्याय के सरोकार के लिए हमने यह निर्धारित किया था कि समाज के वृद्धजन, नि:शक्तजन, मानसिक रूप से अविकसित, बहुदिव्यांग जैसे लोगों को प्रतिमाह आर्थिक रूप से सशक्त करेंगे। भारतीय सनातन संस्कृति ने हमें पाठ पढ़ाया है कि हमारे परिवार के वृद्धजन, नि:शक्त जन, दिव्यांगजन के प्रति हम अधिक दायित्ववान रहें।

मगर वर्तमान में भाजपा की सरकार ने इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विधवा पेंशन, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय नि:शक्त पेंशन, मुख्यमंत्री कन्या अभिभावक पेंशन, मानसिक रूप से अविकसित/बहुविकलांग को आर्थिक सहायता, सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना सहित सात केंद्रीय प्रायोजित योजनाओं पर ताला लगा दिया है।

150 अन्य परियोजनाओं पर भी लगाया गया ताला :
अप्रैल 2023 से अक्टूबर 2023 माह तक केंद्र सरकार और राज्य सरकार ने इसमें एक भी पैसा खर्च नहीं किया है। बीते सात माह में मप्र और मोदी सरकार द्वारा 2289.42 करोड़ रुपए की सहायता को रोक दिया गया। सुरजेवाला ने कहा कि आने वाले समय में हम दस्तावेजी प्रमाण के साथ एक बड़ा खुलासा करेंगे कि ऐसी ही लगभग 150 से अधिक विभिन्न विभागों की कल्याणकारी योजनाओं को शिवराज सरकार ने ताला लगा दिया है।

Updated On 8 Nov 2023 3:50 PM GMT
Harabhara Vatan

Harabhara Vatan

Next Story