लंदन के ओवल में पांचवें एशेज टेस्ट के तीसरे दिन इंग्लैंड क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों ने अल्जाइमर सोसाइटी को ट्रिब्यूट दिया।

लंदन। लंदन के ओवल में पांचवें एशेज टेस्ट के तीसरे दिन इंग्लैंड क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों ने अल्जाइमर सोसाइटी को ट्रिब्यूट दिया। अल्जाइमर सोसाइटी यूके में डिमेंशिया से पीड़ित लोगों, देखभाल करने वालों, विशेषज्ञों, प्रचारकों, शोधकतार्ओं और चिकित्सकों से बना एक संगठन है। इंग्लैंड के सभी खिलाड़ी पांचवें टेस्ट के तीसरे दिन सुबह के सत्र से पहले अपनी जर्सी पर गलत नाम के साथ मैदान पर आए। यानी सभी इंग्लिश खिलाड़ियों ने एक-दूसरे की जर्सी पहन रखी थी।

गलत जर्सी के साथ उतरे इंग्लिश प्लेयर्स
कप्तान बेन स्टोक्स ने जॉनी बेयरस्टो की जर्सी पहनी हुई थी, जबकि मोईन अली ने वोक्स की जर्सी पहनी हुई थी, तो जेम्स एंडरसन ने स्टुअर्ट ब्रॉड की शर्ट पहनी हुई थी। दोनों टीमों ने पहला सत्र शुरू होने से पहले अल्जाइमर सोसायटी के लोगों द्वारा एक गाने का आनंद भी उठाया। इसके बाद इंग्लैंड के सभी खिलाड़ी मैदान पर आए तो आॅस्ट्रेलियाई टीम ने भी उनका समर्थन किया। आॅस्ट्रेलियाई टीम भी इंग्लैंड के खिलाड़ियों के साथ मैदान में इकट्ठा हो गई। फैंस ने इस कदम की खूब सराहना की और दोनों टीमों के लिए तालियां बजाईं। इसका वीडियो भी इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने ट्विटर पर शेयर किया है। हालांकि, बाद में यानी खेल शुरू होने के बाद सभी ने सही जर्सी पहन ली।

क्या है डिमेंशिया
इंग्लैंड के सहायक कोच मार्कस ट्रेस्कोथिक ने कहा कि यह इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड और एल्जेमर सोसायटी की संयुक्त पहल है। ट्रेस्कोथिक ने कहा, यह एक भयावह बीमारी है। हम लोगों को जागरूक करना चाहते हैं और चैरिटी के लिए पैसा भी एकत्र करना चाहते हैं। ट्रेस्कोथिक के पिता मार्टिन खुद इस बीमारी से पीड़ित हैं।

डिमेंशिया एक ऐसा शब्द है जो आम तौर पर मानसिक स्थिति में गिरावट को दशार्ता है। यह किसी व्यक्ति के आम जीवन को तहस-नहस करने की क्षमता रखता है। यह कोई विशिष्ट बीमारी नहीं है, बल्कि एक व्यापक शब्द है जो अल्जाइमर रोग सहित कई प्रकार की मेडिकल कंडीशन में आम है। इस स्थिति में व्यक्ति की याददाश्त, उसका ध्यान, उसकी भाषा और समस्या-समाधान क्षमताएं प्रभावित होती हैं। इससे किसी का भी जीवन परेशानियों से भर जाता है। इसको ठीक करने के लिए अच्छे देखभाल की आवश्यकता होती है।

Harabhara Vatan

Harabhara Vatan

Next Story