भारत और पाकिस्तान की टीमें रविवार को वनडे एशिया कप में सुपर-4 के मुकाबले में फिर से आमने-सामने होंगी। इस मुकाबले में चोट के बाद वापसी करने वाले भारतीय बल्लेबाज लोकेश राहुल और बारिश पर सभी की निगाहें रहेंगी।

कोलंबो। भारत और पाकिस्तान की टीमें रविवार को वनडे एशिया कप में सुपर-4 के मुकाबले में फिर से आमने-सामने होंगी। इस मुकाबले में चोट के बाद वापसी करने वाले भारतीय बल्लेबाज लोकेश राहुल और बारिश पर सभी की निगाहें रहेंगी। राहुल लंबे समय बाद वनडे प्रारूप में खेलते दिख सकते हैं, तो वहीं, कोलंबो में बारिश ने सभी की सिरदर्दी बढ़ा रखी है। पूरे सप्ताह बारिश होने क संभावना है और ऐसे में इस मैच के लिए एक विवादास्पद सुरक्षित दिन (रिजर्व डे) भी रखा गया है। अगर रविवार को बारिश आती है और खेल जहां रुक जाएगा और तो सोमवार को वहीं से शुरू होगा। इससे पहले भारत और पाकिस्तान के बीच ग्रुप मैच में भी बारिश ने बाधा पहुंचाई थी। उस मैच में भारतीय टीम ने तो अपनी पारी खेली थी, लेकिन पाकिस्तान अपनी पारी नहीं खेल पाया था। वहीं, राहुल पांच महीने बाद वनडे में खेलते दिखेंगे। उन्होंने अपना पिछला मैच इस साल 22 मार्च को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था जिसमें वह 32 रन पर ही आउट हो गए थे।

राहुल और ईशान में नंबर-पांच के लिए टक्कर :
भारतीय टीम मैनेजमेंट के सामने राहुल और ईशान किशन में से किसी एक को चुनने की दुविधा का हल निकालना अहम रहेगा। ईशान ने पिछले लगभग एक महीने में अपने प्रदर्शन से सभी को प्रभावित किया है। उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन और मौजूदा एशिया कप में पाकिस्तान के खिलाफ अर्धशतक लगाया है। इस दौरान किशन ने पारी का आगाज करने से लेकर पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी भी की है। किशन बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं तो इससे भारतीय बल्लेबाजी क्रम में थोड़ी विविधता भी आई है। वहीं, राहुल को भी नजरअंदाज मुश्किल है। टीम मैनेजमेंट को उनके फिट होने का शुरू से इंतजार था। अब वह फिट होकर टीम में लौटे हैं। वह जांघ की चोट और सर्जरी से परेशान थे।

प्रदर्शन भी शानदार :
राहुल का 2019 के बाद से प्रदर्शन अच्छा रहा है। उन्होंने 2019 में 13 मैचों में 47.67 के औसत से 572 रन बनाए। 2020 में नौ मैचों में 55.38 के औसत से 443 रन, 2021 में तीन मैचों में 88.50 के औसत से 108 रन, 2022 में 10 मैचों में 27.89 के औसत से 251 रन और 2023 में छह मैचों में 56.50 के औसत से 226 रन कूटे हैं। इसके अलावा उन्होंने पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 18 मैचों में 53 के औसत से 742 रन बनाने में सफल हुए हैं। उन्होंने पांचवें नंबर पर एक शतक और सात अर्धशतक भी लगाए हैं। उनकी विकेटकीपिंग भी अच्छी है और उन्होंने इस टूनार्मेंट में टीम के साथ जुड़ने के बाद विकेटकीपिंग का भी अच्छा अभ्यास किया था।

गेंदबाजी हुई मजबूत :
तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह भी टीम के साथ जुड़ गए हैं और पाकिस्तान के खिलाफ मैच में टीम की गेंदबाजी भी मजबूत हो गई है। ग्रुप मैच में बुमराह टीम में शामिल थे, लेकिन बारिश के कारण टीम की गेंदबाजी नहीं आई। फिर नेपाल के खिलाफ उन्हें व्यक्तिगत कारणों से स्वदेश लौटना पड़ा। नेपाल के खिलाफ मैच में उनकी जगह मोहम्मद शमी को मौका मिला था। उम्मीद की जा रही है कि बुमराह के साथ सिराज अंतिम एकादश में खेलेंगे। शमी को बाहर बैठना पड़ सकता है।

शाहीन और हारिस लेंगे परीक्षा :
पाकिस्तान की टीम को बांग्लदेश के खिलाफ जीत से दो अंक मिल गए थे। एक और जीत हासिल करके पाकिस्तान के चार अंक हो जाएंगे और उसका फाइनल में पहुंचना लगभग तय हो जाएगा। भारतीय बल्लेबाजों की कड़ी परीक्षा पाकिस्तान तेज गेंदबाजों शाहीन शाह आफरीदी, हारिस रऊफ और नसीम शाह लेंगे। पिछले मैच में शाहीन ने रोहित (11) और कोहली (04) को सस्ते में पवेलियन भेज दिया था। वहीं, हारिस ने गिल को 10 रन पर बोल्ड कर दिया था। इसके बाद हार्दिक पांडया और ईशान ने टीम की पारी को संभाला था। नसीम ने निचले क्रम को जल्दी आउट किया था। वहीं, पाकिस्तान बल्लेबाजों ने अभी तक इस टूनार्मेंट में भारतीय गेंदबाजों का सामना नहीं किया है। ऐसे में उनका बुमराह और सिराज के सामने खेलना आसान नहीं होगा।

Updated On 10 Sep 2023 9:18 AM GMT
Harabhara Vatan

Harabhara Vatan

Next Story