टी20 विश्व कप, वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल और अब वेस्टइंडीज जैसी कमजोर टीम के खिलाफ टी20 सीरीज में हार ने भारतीय क्रिकेट पर कई सवाल खड़े कर दिए हैं।

गयाना। टी20 विश्व कप, वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल और अब वेस्टइंडीज जैसी कमजोर टीम के खिलाफ टी20 सीरीज में हार ने भारतीय क्रिकेट पर कई सवाल खड़े कर दिए हैं। वहीं इंडिया ने जुलाई 2021 के बाद पहली बार कोई द्विपक्षीय टी20 सीरीज गंवाई है। रविवार को खेले गए सीरीज के आखिरी मुकाबले में मेजबान वेस्टइंडीज ने भारत को 8 विकेट से हरा दिया। भारत के हाथों से यह सीरीज जाने के बाद 2021 से चला आ रहा टी20 सीरीज नहीं हारने का सिलसिला टूट गया।

लगातार 11 सीरीज जीती थी
टीम इंडिया ने जुलाई 2021 के बाद पहली बार कोई द्विपक्षीय टी20 सीरीज गंवाई है। भारत आखिरी बार श्रीलंका के खिलाफ 3 मैचों की टी20 सीरीज में 1-2 से हारा था। उसके बाद से टीम इंडिया एक भी द्विपक्षीय टी20 सीरीज नहीं हारी थी। भारत ने श्रीलंका के खिलाफ उस सीरीज के बाद से 12 टी20 सीरीज खेली, जिसमें से 11 में उसने जीत दर्ज की जबकि एक सीरीज जो कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ थी वह 2-2 से ड्रॉ पर समाप्त हुई थी।

हार्दिक की कप्तानी में पहली सीरीज गंवाई
टीम इंडिया हार्दिक पंड्या की कप्तानी में पहली टी20 सीरीज हारी है। पंड्या 2022 टी20 वर्ल्ड कप में भारत की हार के बाद से हर टी20 सीरीज में भारत की कप्तानी कर रहे थे और अभी तक सभी सीरीज उन्होंने जीती थी। इस हार के बाद इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है, जब भारत 5 मैचों की बाइलेटरल सीरीज में किसी टीम से हारा है। वहीं सीरीज गंवाने के बाद टीम इंडिया का वेस्टइंडीज के खिलाफ शानदार रिकॉर्ड भी 15 साल बाद टूट गया। दरअसल, भारतीय टीम वेस्टइंडीज के खिलाफ लगातार 15 बाइलेटरल सीरीज जीत चुकी थी और यह 16वीं जीत का मौका था।

Harabhara Vatan

Harabhara Vatan

Next Story