भारत को क्रिकेट में दो बार विश्व कप जिता चुके पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की सात नंबर जर्सी को अब कोई दूसरा नहीं पहन सकेगा, जी हां। बीसीसीआई ने महेंद्र सिंह धोनी की सात नंबर जर्सी को रिटायर करने का फैसला किया है।

मुंबई। भारत को क्रिकेट में दो बार विश्व कप जिता चुके पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की सात नंबर जर्सी को अब कोई दूसरा नहीं पहन सकेगा, जी हां। बीसीसीआई ने महेंद्र सिंह धोनी की सात नंबर जर्सी को रिटायर करने का फैसला किया है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने भारतीय के कप्तान रहे धोनी को यह अनोखा सम्मान दिया है। धोनी के पूर्व मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को भी यह सम्मान दिया गया था। बता दें कि सचिन तेंदुलकर मैदान पर 10 नंबर की जर्सी पहनते थे और 2017 में सचिन की 10 नंबर की जर्सी को भी रिटायर कर दिया गया था। गौरतलब है कि धोनी की कप्तानी में भारत ने 2007 में टी-20 वर्ल्ड कप और 2011 में वनडे वर्ल्ड कप और 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी भी भारत को दिला चुके हैं।

रिटायरमेंट के तीन साल बाद लिया गया फैसला :
बीसीसीआई ने यह फैसला धोनी के रिटायरमेंट के तीन साल बाद लिया। बीसीसीआई के अनुसार धोनी ने अपने पूरे करियर में जिस नंबर की टी-शर्ट पहनी थी, उसे रिटायर करने का फैसला किया गया है। इस फैसलो के बाद भविष्य में यह जर्सी कोई अन्य खिलाड़ी नहीं पहन सकेगा। कैप्टन कूल एमएस धोनी 15 अगस्त 2020 को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह चुके हैं। उन्होंने 2014 में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। अब ऐसे में डेब्यू करने वाले नए खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर और एमएस धोनी से जुड़े नंबरों को नहीं चुन सकते हैं।

वर्दी के रिटायरमेंट की पुरानी है परंपरा :
बता दें कि खेलों में दिग्गज खिलाड़ियों को सम्मान स्वरूप उनकी वर्दी को रिटायरमेंट दिया जाता है। मशहूर फुटबॉलर डिएगो मेराडोना की 10 नंबर की जर्सी भी रिटायर की गई थी। इस कारण इटालियन फुटबॉल लीग, सीरी ए क्ल्ब नेपोली में कोई खिलाड़ी 10 नंबर की जर्सी नहीं पहनता है। धोनी ने अपनी कप्तानी में देश को 2007 में टी-20 और 2011 में वनडे वर्ल्ड कप के साथ 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी भी जिताई है।

Harabhara Vatan

Harabhara Vatan

Next Story